Sidebar Menu

Fri, 01 July 2022

भोपाल में द्रोणाचल के जंगल में लापता बच्चे का शव के अवशेष मिलने से हड़कंप मचा, मौके पर प्रशासन और वन विभाग की टीम

भोपाल। राजधानी भोपाल में निशातपुरा क्षेत्र के मिलिट्री एरिया के द्रोणाचल जंगल में एक लापता बच्चे का शव के अवशेष मिलने से हड़कंप मचा गया। सेना के अधिकारियों ने इसकी सूचना पुलिस के देने के बाद प्रशासन और वन विभाग की टीम द्रोणाचल...

भोपाल। राजधानी भोपाल में निशातपुरा क्षेत्र के मिलिट्री एरिया के द्रोणाचल जंगल में एक लापता बच्चे का शव के अवशेष मिलने से हड़कंप मचा गया। सेना के अधिकारियों ने इसकी सूचना पुलिस के देने के बाद प्रशासन और वन विभाग की टीम द्रोणाचल पहुंची।

बच्चा बुधवार रात से लापता था। जंगली जानवर या फिर आदमखोर कुत्तों ने 8 साल के मासूम को नोंच-नोंचकर मार डाला। कुत्ते बच्चे की कमर के नीचे के हिस्से को खा गए। घटना मिलिट्री एरिया की है। बच्चे को ढूंढने जब मां पहुंची, तो उसके होश उड़ गए। निशातपुरा थाना पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिवार वालों को सौंप दिया। इधर, नगर निगम कुत्तों के साथ ही जंगली जानवर द्वारा शिकार किए जाने की आशंका भी जता रहा है। पुलिस का कहना है कि पीएम रिपोर्ट आने पर ही स्थिति स्पष्ट होगी। बता दें कि राजधानी में पिछले छह महीने में यह दूसरी बड़ी घटना है।

दिलदहलाने वाली ताजा घटना द्रोणांचल मिलिट्री एरिया में रात 11 से सुबह 4 बजे के बीच की है। 8 साल का रितेश भमोरे उसकी मां प्रीति के साथ मिलिट्री स्टेशन के सर्वेंट क्वार्टर में रहता था। बच्चे की मां मिलिट्री अफसर के यहां काम करती है, जबकि पिता भीमा खंडवा में मजदूरी करते हैं। घर में प्रीति अपने दो बेटों के साथ रहती है। इसमें से रितेश बड़ा था। छोटे बेटे की उम्र 4 साल है।

निशातपुरा टीआई महेंद्र सिंह ने बताया कि रितेश रोजाना रात 9 से 12 बजे के बीच साइकिल चलाता था। बुधवार रात में 9 बजे वह साइकिल चलाने के लिए घर से निकला था। इस दौरान मां की नींद लग गई। वह छोटे बेटे के साथ सो गई। सुबह 4 बजे उसकी नींद खुली, तो बेटा रितेश नहीं दिखा। वह बेटे की तलाश में निकली। घर से करीब 500 फीट दूर जाकर देखा, तो झाड़ियों में बच्चे के शरीर को 5-6 कुत्ते नोंच रहे थे। ये देखते ही प्रीति चीख उठी। जानकारी लगने पर निशातपुरा थाना पुलिस मौके पर पहुंची। टीआई ने बताया कि कुत्तों ने बच्चे के शव का निचला हिस्सा पूरी तरह से खा लिया था।

पुलिस ने जब आसपास के रहवासियों से चर्चा की तो पता चला कि इलाके में कुत्तों के कई झुंड हैं, जो पांच-छह की संख्या में घूमते हैं। कई लोगों पर हमला भी कर चुके है। पुलिस अफसर का कहना है कि यह पूरा क्षेत्र जंगल से घिरा है। यहां कई जंगली जानवर भी देखे गए हैं। बच्चा कल रात से लापता था। सुबह उसका शव मिला। अभी तक इस बात के सबूत नहीं हैं कि कुत्तों ने हमला किया था। आशंका है कि जंगली जानवरों ने हमला किया हो। पीएम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति साफ होगी।

घटना का निरीक्षण करने पहुंचे। एसडीएम व्रत बैरागढ़ और तहसीलदार वन विभाग के रेंजर ने जांच के बाद मासूम बच्चे के शव की जांच के बाद बताया कि जंगली जानवर मासूम हमला किया होगा।  उसके बाद कुत्तों ने उसे खा लिया। पोस्टमार्टम के लिये हमीदिया अस्पताल भेज दिया गया हैं। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता हैं। Posted By: SATISH TEWARE

 


About Author

Leave a Comment