Sidebar Menu

Thu, 11 August 2022

प्रेम-प्रसंग मामला: इंदौर के पुलिस कंट्रोल रूम में महिला सब इंस्पेक्टर को गोली मारी, फिर भोपाल के थाना प्रभारी ने सर्विस रिवॉल्वर से की खुदकुशी

इंदौर। राजधानी भोपाल के एक थाना प्रभारी ने इंदौर के पुलिस कंट्रोल रूम में खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। उन्होंने पहले एक महिला सब इंस्पेक्टर को गोली मारी, इसके बाद खुद जान दे दी। पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्र ने इसे...

इंदौर। राजधानी भोपाल के एक थाना प्रभारी ने इंदौर के पुलिस कंट्रोल रूम में खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। उन्होंने पहले एक महिला सब इंस्पेक्टर को गोली मारी, इसके बाद खुद जान दे दी। पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्र ने इसे प्रेम-प्रसंग का मामला बताया है।

भोपाल के श्यामला हिल्स थाने के थाना प्रभारी हाकम सिंह इंदौर आकर महिला सब इंस्पेक्टर रंजना खांडे के साथ कॉफी पी रहे थे। दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ और थाना प्रभारी ने अचानक गोली चला दी। कंट्रोल रूम के बाहर दो फायर की आवाज सुन अन्य पुलिसकर्मी जब मौके पर पहुंचे तो वहां कार के पास थाना प्रभारी हाकम सिंह पवार और सब इंस्पेक्टर रंजना लहूलुहान पड़े थे। पुलिसकर्मियों ने समझा कि दोनों को किसी ने गोली मारी है।

जब वे पास पहुंचे तो माजरा समझ आया। थाना प्रभारी के पैरों के पास उनकी सर्विस रिवॉल्वर पड़ी हुई थी। जब महिला तो हिलाया तो वह उठकर बैठ गईं और सड़क पर आ गईं। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया।घायल रंजना ने मीडिया से सीधे बात नहीं की। उनके नजदीकी लोगों का कहना है कि थाना प्रभारी हाकम सिंह पंवार और महिला सब इंस्पेक्टर के बीच कार को लेकर विवाद चल रहा था। महिला ने हाकम सिंह से कार खरीदी थी, लेकिन थाना प्रभारी ने कार ट्रांसफर नहीं की थी। इसी बात को लेकर दो-तीन दिन से दोनों में तनातनी चल रही थी। इसे लेकर शुक्रवार को भी दोनों में विवाद हुआ था। ये भी बात सामने आ रही है कि थाना प्रभारी हाकम सिंह इंदौर में पोस्टिंग के दौरान महिला सब इंस्पेक्टर रंजना के घर में किराये से रहे थे।

भोपाल के एडिशनल डीसीपी रामस्नेही मिश्रा का कहना है कि थाना प्रभारी हाकम सिंह 6 फरवरी 2022 को भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में पदस्थ हुए थे। वह खटलापुरा इलाके में फ्लैट लेकर किराए से रहते थे। मूलत: तराना उज्जैन के रहने वाले हाकम सिंह भोपाल में अकेले रहते थे। 21 जून 2022 को तीन दिन की छुट्टी लेकर गए थे। गुरुवार को उन्हें जॉइन करना था। 58 साल के थाना प्रभारी हाकम सिंह कॉन्स्टेबल पद पर पुलिस में भर्ती हुए थे।

वह इंदौर, महेश्वर, राजगढ़, खरगोन और भोपाल में पदस्थ रहे। बताया जा रहा है कि हाकम सिंह ने 3 शादियां की थी। घायल सब इंस्पेक्टर रंजना खरगोन जिले की रहने वाली हैं। वर्ष 2014 में वे सीधी भर्ती के जरिए पुलिस विभाग में ज्वाइन हुई। उनकी पहली पोस्टिंग धार में हुई थी। वे साल 2018 में इंदौर आई। अभी पुलिस कंट्रोल रूम में सब इंस्पेक्टर हैं। फिलहाल घायल महिला सब इंस्पेक्टर का उपचार चल रहा है। रंजना को डॉक्टरों ने अभी बोलने से मना किया है। Posted By: SATISH TEWARE


About Author

Leave a Comment