Sidebar Menu

Fri, 07 October 2022

एनआईए की 6 राज्यों में छापेमारी: आईएसआईएस मॉड्यूल को लेकर की रेड, देवबंद से मदरसा स्टूडेंट अरेस्ट, मध्य प्रदेश में भी कार्यवाही

भोपाल। आतंकी संगठन आईएसआईएस के मॉड्यूल को लेकर एनआईए ने 6 राज्यों में छापेमारी की है। मध्य प्रदेश महाराष्ट्र, यूपी, गुजरात, बिहार और कर्नाटक में रेड डाली है। इन राज्यों में 13 बिल्डिंग्स ऐसी हैं, जहां एनआईए की टीम पहुंची है। टीम को...

भोपाल। आतंकी संगठन आईएसआईएस के मॉड्यूल को लेकर एनआईए ने 6 राज्यों में छापेमारी की है। मध्य प्रदेश महाराष्ट्र, यूपी, गुजरात, बिहार और कर्नाटक में रेड डाली है। इन राज्यों में 13 बिल्डिंग्स ऐसी हैं, जहां एनआईए की टीम पहुंची है। टीम को संदिग्ध सामान मिला है, हालांकि एजेंसी की ओर से इस बारे में जानकारी नहीं दी गई है।

एनआईए ने 25 जून को आईपीसी की धारा 153ए और 153बी और यूपी(पी) अधिनियम की धारा 18, 18 बी, 38, 39 और 40 के तहत मामला दर्ज किया गया था। इसी मामले में एजेंसी ने के मध्य प्रदेश भोपाल और रायसेन, गुजरात के भरूच, सूरत, नवसारी और अहमदाबाद जिले में, बिहार के अररिया, कर्नाटक के भटकल और तुमकुर शहर, महाराष्ट्र के कोल्हापुर और नांदेड़ और यूपी में देवबंद जिले में छापेमारी की है।

उत्तरप्रदेश के सहारनपुर में और एटीएस टीम ने देवबंद से एक संदिग्ध युवक को अरेस्ट किया है। युवक का नाम फारुख बताया जा रहा है। वह कई भाषाओं का जानकार है, जो देवबंद के एक मदरसे में काफी समय से रहकर पढ़ाई कर रहा था। युवक कर्नाटक के आईएस आतंकी मॉड्यूल के संपर्क में था और टेलिग्राम के माध्यम से आतंकी साहित्य का कई भाषाओं में ट्रांसलेशन करता था। एनआईए उसे अपने साथ किसी गोपनीय जगह पर ले गई है। आगे पूछताछ की जा रही है।

पटना के फुलवारी शरीफ टेरर केस को लेकर बिहार के 6 जिलों में गुरुवार को एनआईए की टीम ने छापा मारा था। पटना, दरभंगा, मोतिहारी नालंदा, अररिया और मधुबनी में सुबह 6 बजे एनआईए की टीम ने पुलिस के साथ इन जगहों पर दबिश दी थी। इस कार्रवाई में एनआईए की टीम के हाथ अलग-अलग जगहों से डिजिटल डिवाइस और कई महत्वपूर्ण कागजात हाथ लगे। पटना में पीएफआई के संरक्षक अतहर के घर रेड पड़ी।

दरभंगा में तीन जगहों पर एनआईए की टीम ने एक साथ दबिश दी। दरभंगा के उर्दू बाजार में नूरुद्दीन जंगी और शंकरपुर में मो. मुस्तकीम और सनाउल्लाह के घर एनआईए की टीम पहुंची। वहां उसके रिश्तेदार से पूछताछ की। Posted By: VILAS TIWARI


About Author

Leave a Comment